Coal production in India | NTPC कोयला उत्पादन और SECL बिजली उत्पादन करेंगे

Coal production in India | ऊर्जा और कोयला क्षेत्र की दो बड़ी कंपनियों ने अपने कामकाज में बड़ा बदलाव किया है। देश की प्रमुख पावर कंपनी NTPC अब Coal production की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही है, जबकि “कोल इंडिया” , जो Coal production में सबसे बड़ी कंपनी है, बिजली उत्पादन की दिशा में कदम बढ़ा रही है। वहीं बीते कुछ दिनों में केंद्र सरकार द्वारा अपने सार्वजनिक उपक्रमों के व्यवसाय में विविधीकरण किए जाने के परिणाम अब सामने आने लगे हैं। जिससे कुछ सुखद परिणाम देखने को मिल रहे है ।

NTPC Coal production और Coal India पावर सेक्टर

कुछ साल पहले तक यह कल्पना नहीं की जाती थी कि NTPC Coal production और Coal India पावर सेक्टर में कदम रख सकते हैं। लेकिन अब, NTPC और SECL द्वारा एक-दूसरे के क्षेत्र में विस्तार किए जाने से ऊर्जा क्षेत्र को एक नई मजबूती मिलने के संकेत हैं। कोयला क्षेत्र में प्रवेश के मात्र 7 वर्ष में ही, NTPC ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में 34.38 मिलियन टन प्रति वर्ष कोयला उत्पादन का लक्ष्य हासिल कर लिया है। NTPC का लक्ष्य अगले 3 वर्षों में 100 MT सालाना उत्पादन करना है।

दूसरी ओर, कोल इंडिया देश के विभिन्न राज्यों में पावर प्लांट स्थापित कर रहा है, जिनमें से कुछ राज्य सरकारों के साथ संयुक्त उपक्रम के रूप में हैं। इसके अतिरिक्त, कोल इंडिया अपने स्वतंत्र पावर प्लांट भी अनुषांगिक कंपनियों के माध्यम से स्थापित कर रहा है।

Read this :- Khanapara TEER Result Toady Live | 25 May 2024 

NTPC के एक अधिकारी ने बताया कि 2014 के बाद औद्योगिक और आर्थिक क्षेत्र में सुधार के कार्यक्रम लागू किए गए। इसके तहत कोयला मंत्रालय और ऊर्जा मंत्रालय ने अपनी सार्वजनिक उपक्रम Coal India और NTPC को व्यावसायिक विविधीकरण करते हुए नए क्षेत्र में उतरने का रास्ता तैयार किया।

NTPC और Coal india के प्रमुख बदलाव

NTPC का कोयला उत्पादन :

वित्तीय वर्ष 2023-24 में 34.38 मिलियन टन कोयला उत्पादन का लक्ष्य।
अगले 3 वर्षों में 100 मिलियन टन सालाना उत्पादन का लक्ष्य।

Coal India का बिजली उत्पादन:

  • देश के विभिन्न राज्यों में पावर प्लांट स्थापित करने की योजना।
  • कुछ पावर प्लांट राज्य सरकारों के साथ संयुक्त उपक्रम के रूप में।
  • स्वतंत्र पावर प्लांट अनुषांगिक कंपनियों के माध्यम से स्थापित।

ऊर्जा क्षेत्र के भविष्य की ओर

NTPC और कोल इंडिया के इन बड़े बदलावों से भारत के ऊर्जा क्षेत्र में एक नई क्रांति आने की संभावना है। ये कदम न केवल ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा देंगे, बल्कि रोजगार के नए अवसर भी पैदा करेंगे। केंद्र सरकार का यह रणनीतिक बदलाव भारत की ऊर्जा सुरक्षा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा

Read Also this :- IPL 2024 Point Table live

Leave a comment