Cold Home Remedies : सर्दी, जुकाम का घरेलू उपाय जाने । जो देंगे जल्द आराम

नई दिल्ली : Cold Home Remedies / सर्दी या जुकाम आज कल मौसम का अचानक बदलाब आम हो गया है । जिसका सीधा प्रभाज जलवायु परिवर्तन को माना जा रहा है । और बदले मौसम कई बीमारी अपने साथ लेकर आता है । जिसमें से सर्दी या जुकाम एक आम बीमारी है । जो अचानक मौसम के बदलते ही हो जाती है । मौसम के बदलाब से शुरू हुई यह बीमारी अचानक ही बड़ा रूप ले लेती है । सर्दी और जुकाम जैसी बीमारियाँ सर्दियों में आम होती हैं। और सर्दी या जुकाम को अन्य नाम से जैसे नैसोफेरिंजाइटिस, राइनोफेरिंजाइटिस, अत्यधिक नज़ला या ज़ुकाम के  नाम से भी जाना जाता है । वही अगर बात करे तो जुकाम या नजला छोटे बच्चों को होना आम – सा हो गया है । और यह पूरे घर में कब फैल जाती है पता ही नहीं चलता है । क्योंकी यह एक संक्रामक बीमारी है । जो एक दूसरे के संपर्क में आने से या छींकने वायु में संक्रामक तत्व से हो जाती है । यह ऊपरी श्वसन तंत्र से होने वाला  और आसानी से फैलने वाला संक्रामक रोग है जो की अधिकता  नासिका (स्राव नली ) को प्रभावित करता है। जुकाम होने का राइनोवायरस इसका सबसे आम कारण है।

Read this : VIVO T3X : 17 अप्रैल को होने वाला है लॉन्च । FLIPKART पर हुआ माइक्रोलिस्ट जानिए कीमत

सर्दी या जुकाम होने के लक्षण 

Sardi Jukam | Cold Home Remedies |

इसके लक्षणों में खांसी, गले की खराश, नाक से स्राव (राइनोरिया) और ज्वर आते हैं। लक्षण आमतौर पर सात से दस दिन के भीतर समाप्त होने लगते है । बता दे की कुछ लक्षण तीन सप्ताह तक भी रह सकते हैं। और आप को प्रभावित करते है । इसमें नाक से पानी आना, बार बार छींक आना , बुखार या ज्वार , गले में खराश और थकान आम इसके प्रमुख लक्षण है ।  ऐसे दो सौ से अधिक वायरस होते हैं जो सामान्य ज़ुकाम का कारण बन सकते हैं। यह वायरल इन्फेक्शन से होती है जिसमें नाक और गले में खराश, बुखार और थकान होती है।

सर्दी जुकाम के घरेलू उपाय ( Sardi Jukam ke gharelu upay )

  • गुड़ (जग्गरी) और सौंठ :- गुड और सौंठ दोनों ही गर्म तासीर के होते है । दोनों में ही संक्रमण को काम करने के गुण पाए जाते है । गुड़ और सोंठ दोनों ही आपके लिए सर्दी या जुकाम को कम करने में काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। गुड़ में पोटैशियम, फाइबर, जिंक, मैग्नीज, मैग्नीशियम, ग्लूकोज, और आयरन के अच्छे स्रोत होते हैं, जबकि सोंठ में फाइबर, विटामिन ए और सी, एंटीऑक्सीडेंट, और एंटीइंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं। ये आपको संक्रमण से बचाने में मदद कर सकते हैं और सेहत के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। गुड़ और सौंठ को एक साथ मिलाकर खाने से सर्दी और जुकाम में लाभ होता है। और यह आसानी से घर में प्राप्त कर सकते है । जो की सर्दी या जुकाम को बहुर असरदार होते है
  • गर्म पानी से गरारा : सुबह-शाम गर्म पानी से गरारा करने से नाक में जमी हुई बलगम निकल जाती है और गले की खराश कम होती है। और जुकाम में राहत मिलती है ।
  • गर्म पानी और नमक: गरारे के लिए पानी को हल्का गर्म करें। याद रहे, ज्यादा गर्म पानी का उपयोग न करें, क्योंकि इससे मुँह जल सकता है। गुनगुना पानी लें और उसमें एक चुटकी नमक मिलाएं। रात को सोने से पहले गरारा करें। गर्म पानी में थोड़ा सा नमक मिलाकर पीने से गले की सूजन और खराश में राहत मिलती है।
  • अदरक और शहद: अदरक को गुड़े के साथ मिलाकर चबाने से गले की खराश में लाभ होता है। बता दे की अदरक और शहद का मिश्रण प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में प्रसिद्ध है।प्राचीन काल से इस मिश्रण क उपयोग होता आ रहा है । अदरक का स्वाद कड़वा होता है, लेकिन यह कफ और दर्द से राहत प्रदान करने के लिए एक अच्छा उपाय है। इस मिश्रण का सेवन सर्दियों में जुकाम, गले की खराश, और गले के दर्द को कम कर सकता है। और जुकाम और सर्दी में राहत मिलती है ।
  • गर्म दूध में हल्दी: रात को सोने से पहले गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीने से नींद अच्छी आती है और जुकाम में भी राहत मिलती है।

इन उपायों को अपनाकर आप सर्दी और जुकाम से राहत पा सकते हैं। यदि समस्या बढ़ती है तो चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

READ this : Sanju samson और Yuzvendra Chahal को T20 World Cup में मिल सकता है । मौका

Leave a comment